Connect with us

समाचार

पराठे के शौकीन लोगों के लिए राहत, फिर खुला मुरथल का अमरीक-सुखदेव ढाबा

Published

on

पराठे के शौकीन लोगों के लिए राहत, फिर खुला मुरथल का अमरीक-सुखदेव ढाबा

पराठे खाने के शौकीन लोगों के लिए बड़ी राहत की खबर आ रही है। दिल्ली से सटे सोनीपत के मुरथल के मशूहर अमरीक-सुखदेव ढाबे को खोल दिया है। यहां पर पराठे मिलने भी शुरू हो गए हैं। वहीं, अब पहले की तुलना में ज्यादा एहतियात बरती जा रही है। जागरण संवाददाता से मिली जानकारी के मुताबिक, कोरोना वायरस से संक्रमित कर्मचारियों के मिलने के बाद करीब 13 दिन पहले बंद हुआ मुरथल का अमरीक-सुखदेव ढाबा बुधवार को दोबारा खोल दिया गया  है। इसके साथ बंद किए गए अन्य ढाबे पहले ही खुल चुके हैं। अमरीक-सुखदेव ढाबे पर मरम्मत का कार्य चल रहा था। वहीं, इस बाबत अमरीक-सुखदेव ढाबा के संचालक ने जागरण संवाददाता को बताया कि वे पहले से ही नियमों का पालन कर रहे थे, अब और सख्ती से नियमों का पालन किया जाएगा।

Murthal, Amrik Sukhdev Dhaba : पराठे के शौकीन लोगों के लिए राहत, फिर खुला मुरथल का अमरीक-सुखदेव ढाबा

गौरतलब है कि 31 अगस्त को मुरथल हाईवे किनारे स्थित अमरीक-सुखदेव पर बिहार से लाए गए करीब 100 कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट किया गया था। इनमें से 71 कर्मचारी संक्रमित मिले थे। इन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया था। नियमित जांच के बाद इनकी दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव आई लेकिन तब तक ढाबे पर एसी फिटिंग में रिसाव की मरम्मत का काम शुरू कराया जा चुका था। बुधवार को यह काम पूरा कर लिया गया। इसके बाद बृहस्पतिवार को ढाबे को दोबारा ग्राहकों के लिए खोल दिया गया। ढाबा संचालक सुखदेव सिंह ने कहा कि सभी नियमों का पहले भी पालन हो रहा था लेकिन अब सभी ग्राहकों के नाम, पते और मोबाइल नंबर लिखे जा रहे हैं। बता दें कि अगस्त महीने में कराए गए टेस्ट में अमरीक-सुखदेव ढाबे के 71 तो गरम-धरम ढाबे के 10 कर्मचारी कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ गए थे। इसके बाद इन दोनों के साथ अन्य ढाबों को भी साल कर दिया गया था।