Connect with us

City

अब भी संभल जाए – 35 दिन में 127 अपनों को खोया, पानीपत में कोरोना

Published

on

Advertisement

अब भी संभल जाए – 35 दिन में 127 अपनों को खोया, पानीपत में कोरोना

 

 

Advertisement

आज मन दुखी है, क्याेंकि आज 6 मई है। आज से एक साल पहले 6 मई 2020 काे काेराेना से पहली माैत दीनानाथ काॅलाेनी के 24 वर्षीय दीपक की हुई थी। दुख तो उस समय भी बहुत हुआ था, लेकिन यह पता नहीं था माैताें का आंकड़ा यहां तक आ जाएगा। इतने दिन में कोरोना ने हमारे 291 अपनाें काे छीन लिया। गहरी पीड़ा ये है कि इनसे आखिरी बार लिपटकर रो भी नहीं पाए।

Advertisement

अंतिम संस्कार, आत्मा की शांति के लिए प्रार्थनाएं कुछ नहीं कर सके। इस बार तो बड़ी संख्या में 45 से कम उम्र के लोग शिकार बन रहे है। दाे लड़कियाें की उम्र ताे 16 और 18 साल ही थी। संभलिए! क्याेंकि काेराेना का पलटवार बहुत खतरनाक है। पहले 330 दिनों में 164 लाेगाें की माैत हुई थी। यानी लगभग हर दूसरे दिन एक माैत। जबकि पिछले 35 दिनों में ही 127 की मौत हो चुकी है। यानी लगभग 4 लाेग राेज जान गंवा रहे हैं।

महिलाओं से ज्यादा पुरुषाें की गई जान

Advertisement

पानीपत में महिलाओं से ज्यादा पुरुषाें की गई जान है। जिले में 110 महिलाओं और 181 पुरुषाें की काेराेना से माैत हुई है। सबसे ज्यादा माैतें अप्रैल महीने में ही हुई हैं। अप्रैल में कुल 86 लाेगाें की जान गई थी। इसमें 49 पुरुष थे और 37 महिलाएं। मई महीना अप्रैल से भी खतरनाक साबित हाेता दिख रहा है। इन 5 दिनाें में 41 लाेगाें की जान चुकी है। इसमें 24 पुरुषाें और 17 महिलाओं ने जान गंवा दी

 

 

 

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *