Connect with us

पानीपत

आत्महत्या को एक माह हुआ पूरा, जांच जारी, बेटी ने SIT को सौंपी 3 और वीडियो

Published

on

Advertisement

आत्महत्या को एक माह हुआ पूरा, जांच जारी, बेटी ने SIT को सौंपी 3 और वीडियो

 

पूर्व पार्षद हरीश शर्मा और उनके सहयोगी राजेश शर्मा की आत्महत्या को पूरा एक महीना बीत चुका है। गृह मंत्री अनिल विज के दखल के बाद तत्कालीन SP मनीषा चौधरी, तहसील कैंप चौकी इंचार्ज बलजीत और SI महाबीर पर पूर्व पार्षद को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामल मॉडल टाउन थाने में दर्ज किया गया था। मामले की जांच SIT कर रही है। इस मामले में आरोपी एक भी पुलिस अफसर की गिरफ्तारी न होने से पूर्व पार्षद के परिजनों में रोष है।

Advertisement

19 नवंबर की सुबह करीब 9:30 बजे भाजपा नेता और पूर्व पार्षद हरीश शर्मा ने बिंझौल नहर में कूदकर आत्महत्या कर ली थी। उन्हें बचाने के प्रयास में राजेश शर्मा की भी डूबने से मौत हुई थी। परिजनों और समर्थकों ने पुलिस पर केस दर्ज करने के लिए पूर्व पार्षद का शव रखकर 4 घंटे तक दिल्ली-करनाल हाईवे जाम किया था। आरोपियों पर कार्रवाई और परिजन को नौकरी के आश्वासन पर जाम खोला गया। गृह मंत्री अनिल विज के हस्तक्षेप के बाद तत्कालीन SP मनीषा चौधरी, तहसील कैंप चौकी इंचार्ज बलजीत और SI महाबीर के खिलाफ मॉडल टाउन थाने में केस दर्ज किया गया।

Advertisement

ADGP रोहतक रेंज संदीप खिरवार की अध्यक्षता में SIT गठित करके मामले की जांच सौंपी गई। इस मामले में SIT अब तक चार बार परिजनों के बयान दर्ज कर चुकी है। इनके अलावा परिजनों के कहने पर SIT ने दो यूट्यूबर समेत अन्य पुलिस अधिकारियों से भी पूछताछ की। SIT ने 11 दिसंबर को VC के माध्यम से आखिरी बार पूर्व पार्षद की बेटी और पत्नी से बात की थी तथा 10 दिन में जांच पूरी करने का दावा किया था।

दोषियों को बचाने का किया जा रहा प्रयास : अंजली
पूर्व पार्षद की बेटी व वर्तमान पार्षद अंजली ने कहा कि आरोपियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है। गृह मंत्री का प्रेशर होने पर जांच में हाथ-पैर मारे जाते हैं। अब मंत्री जी बीमार हैं तो जांच भी लटकी हुई लगती है। अभी तक एक भी पुलिस अफसर की गिरफ्तारी नहीं हुई है, यह कैसी जांच है?

Advertisement

पूर्व पार्षद ने सुबह पढ़ा था भास्कर अखबार
अंजली शर्मा ने बताया कि उन्होंने 19 नवंबर की तीन और वीडियो शनिवार को SIT को सौंपी हैं। इन वीडियो में उनके पिता सहयोगी राजेश शर्मा के किशनपुरा स्थित घर से अकेले पैदल जाते हुए दिखाई दे रहे हैं। अंजली ने बताया कि इन वीडियो में पिता किसी भी तरह परेशान नहीं दिख रहे। पूर्व पार्षद ने एक मकान के सामने पड़ा दैनिक भास्कर अखबार उठाकर करीब 4 मिनट तक पढ़ा और फिर टहलने की स्थिति में आगे बढ़ गए।

यह था मामला
दिवाली के दिन पटाखे बेचने का आरोप लगाकर तहसील कैंप चौकी पुलिस ने पूर्व पार्षद हरीश शर्मा और उनकी बेटी अंजली शर्मा समेत 10 लोगों पर 11 धाराओं में केस दर्ज किया था। FIR में बेटी का नाम आने और घर पर लगातार पुलिस की दबिश से परेशान होकर पूर्व पार्षद ने 19 नवंबर को बिंझौल नहर में कूदकर जान दे दी थी।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *