Connect with us

विशेष

फिर खुले मुरथल के ढाबे, 27 नियमों का पालन नहीं किया तो होंगे सील, कमेटी रखेगी नज़र

Published

on

Spread the love

फिर खुले मुरथल के ढाबे, 27 नियमों का पालन नहीं किया तो होंगे सील, कमेटी रखेगी नज़र

 

 

अमरीक सुखदेव और गरम धरम ढाबे पर 81 कर्मचारियों के कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आने के बाद इन्हें दोबारा खोलने  की कवायद शुरू हो गई है। शुक्रवार को कमेटी ने हाईवे किनारे सील ढाबों का जायजा लिया और प्रबंधों से संतुष्ट होने पर इन्हें खोलने की अनुमति दे दी। मुरथल स्थित अमरीक-सुखदेव, गरम-धरम, पहलवान, झिलमिल और आहूजा समेत कई अन्य ढाबों पर कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद से प्रशासन ने इन्हें बंद करा दिया था। अब ढाबों-रेस्तरां में नियमों का पालन करने के लिए थाना क्षेत्र स्तर पर कमेटी गठित की गई है। तीन सदस्यीय कमेटी 27 बिंदुओं पर इनकी जांच करेगी। अमरीक-सुखदेव को छोड़कर टीम ने अन्य ढाबों को खोलने की अनुमति दे दी। अमरीक-सुखदेव शनिवार और रविवार को मरम्मत का कार्य होने के कारण बंद रहेगा।

Sukhdev Dhaba & Garam Dharam Dhaba: मुरथल के ढाबों को खोलने की मिली अनुमति, पर बंद रहेगा सबसे मशहूर ढाबा

मुरथल के ढाबों पर कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद अब ढाबों-रेस्तरां पर नियमों का सख्ती से पालन करवाने के लिए कमेटियां नजर रखेंगी। इसके लिए मजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे। वहीं, कमेटी में एक वरिष्ठ चिकित्सक व थाना प्रभारी भी शामिल होंगे। कमेटी 27 नियमों के पालन पर नजर रखकर अपने क्षेत्र के ढाबा-रेस्तरां की जांच कर रिपोर्ट हर रोज उपायुक्त कार्यालय को देंगी। ढाबा-रेस्तरां संचालकों को मांगने पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट को रसोई व डाइनिंग एरिया की सीसीटीवी फुटेज भी मुहैया करवानी होगी।

 

शुक्रवार को बीडीपीओ गन्नौर जितेंद्र सिंह, मुरथल एसएमओ डॉ. संजय छिक्कारा, गन्नौर एसएमओ डॉ. टीना आनंद, मुरथल थाना प्रभारी ने सील ढाबों का दौरा कर प्रबंध जांचे।

वहीं, नोडल अधिकारी व बीडीपीओ गन्नौर जितेंद्र कुमार ने बताया कि उपायुक्त के निर्देशानुसार लगातार ढाबों की जांच करते हुए आवश्यक सुरक्षा प्रबंधों की पड़ताल कर रहे हैं।

जितेंद्र कुमार (बीडीपीओ, गन्नौर) का कहना है कि शुक्रवार को उपायुक्त के निर्देश के बाद पांच ढाबों की जांच के बाद चार ढाबों को खोलने की अनुमति दी गई है।

ड्यूटी मजिस्ट्रेटइन नियमों का करना होगा पालन

 

  1. सैनिटाइजर और थर्मल स्कैनिंग का इस्तेमाल
  2. ढाबे-रेस्त्रां पर आने वालों के बारे में जानकारी
  3. काम कर रहे स्टाफ में किसी की उम्र 65 साल से ज्यादा तो नहीं
  4. कर्मचारियों के फेसकवर, मास्क लगाने जरूरी
  5. शारीरिक दूरी के नियम का पालन
  6. 50 प्रतिशत सीटिंग के नियम का पालन
  7. ग्राहकों को डिस्पोजलेबल मैन्यू व पेपर नैपकिन जरूरी
  8. नियमित तौर पर रसोई के सैनिटाइजेशन की व्यवस्था
  9. शारीरिक दूरी की पालना के लिए निशान जरूरी
  10. लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक करने की व्यवस्था
  11. होम डिलीवरी करने वाले स्टाफ की डिलीवरी से पहले स्कैनिंग
  12. भुगतान के लिए डिजिटल माध्यमों का प्रयोग
Continue Reading
Advertisement