Connect with us

City

नरवाना में दोस्तों के साथ घूमने गया था किशोर, बंदर के डर से नहर में कूदा, डूबा

Published

on

Advertisement

नरवाना में दोस्तों के साथ घूमने गया था किशोर, बंदर के डर से नहर में कूदा, डूबा

 

घर से दोस्तों के साथ वीरवार सुबह घूमने गए 14 वर्षीय शुभम सिरसा ब्रांच नहर में डूब गया। दोस्तों ने घटना के बारे में शुभम के स्वजनों को बताया। स्वजनों ने पुलिस की मदद से शुभम के शव को हांसी ब्रांच नहर से निकाला। मृतक के पिता विकास की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। मोर पत्ती मोहल्ला निवासी शुभम सुबह अपने दोस्तों के साथ घूमने के लिए बाहर गया था। शुभम के दोस्तों ने बताया कि जब वे सिरसा ब्रांच नहर की पगडंडी पर घूम रहे थे। तभी उनके पीछे बंदर लग गए। जिससे डर कर शुभम के दोस्त खेतों की तरफ कूद गए। जबकि शुभम बंदरों के डर से नहर में कूद गया और डूब गया। जब शुभम नहर से बाहर नहीं आया, तो दोस्तों ने घर आकर शुभम के स्वजनों को घटना के बारे में बताया। जिसके बाद स्वजन नहर पर पहुंचे और पुलिस को सूचना देकर बुलाया गया। पुलिस की मदद से नहर से शव को तलाश कर निकाला गया।

Advertisement

जींद में नहर में डूबे शुभम का फाइल फोटो।

छुट्टी थी, इसलिए नहर पर घूमने गया

Advertisement

स्वजनों ने बताया कि शुभम नौवीं कक्षा में पढ़ता था। वह सुबह प्रतिदिन अपने दोस्तों के साथ नवदीप स्टेडियम में जाता था और वहां दौड़ लगाते थे। वीरवार को उसकी छुट्टी थी। इसलिए दोस्तों के साथ सिरसा नहर ब्रांच पर चला गया। नहर उनके घर से तीन किलोमीटर से ज्यादा दूर है। लेकिन कुछ ही समय बाद दोस्तों से शुभम के नहर में डूबने की सूचना मिली। शुभम की मौत से घर में मातम पसरा हुआ है। घरवालों को विश्वास नहीं हो रहा है कि शुभम उनके बीच से चला गया है।

बंदरों के कारण पहले भी हो चुका हादसा

Advertisement

जींद में इंदिरा कालोनी निवासी आठ वर्षीय नैना दूसरे बच्चों के साथ मीट मार्केट में गली में खेल रही थी। तभी वहां बंदर आ गए। बंदरों से बचने के लिए नैना हांसी ब्रांच नहर की तरफ दौड़ी और नहर में कूद गई। जिससे उसकी डूबने से मौत हो गई। स्वजन उसे आसपास ढूंढते रहे, जब वह नहीं मिली, तो पुलिस को शिकायत दी गई। शहर थाना पुलिस ने नहर में सर्च अभियान चलाकर नैना का शव निकाला था।

Advertisement