Connect with us

विशेष

पर्दे लगे ऑटो में छात्रा से दुष्कर्म की हो रही थी कोशिश, पैर बाहर निकले देख महिला डीएसपी ने पीछा कर बचाया

Published

on

Advertisement

पर्दे लगे ऑटो में छात्रा से दुष्कर्म की हो रही थी कोशिश, पैर बाहर निकले देख महिला डीएसपी ने पीछा कर बचाया

 

हिसार में मिलगेट कैंची चौक से छात्रा काॅलेज के लिए ऑटो में बैठी। चालक का मौसेरा भाई भी ऑटो में था। वह मुंह दबाकर छात्रा से जबरदस्ती करने लगा। वे छात्रा को कॉलेज छोड़ने के बजाय एयरपोर्ट चौक ले गए। वहां से सिरसा रोड की तरफ ले जाने लगे। तभी सरकारी गाड़ी से जा रहीं डीएसपी भारती डबास की नजर ऑटो से बाहर निकल रहे पैरों पर पड़ी। तब पीछा कर ऑटो रुकवाया।

Advertisement

ओवरटेक कर ऑटो रुकवाया तो सहमी हुई छात्रा बोली- आप नहीं आतीं तो न जाने क्या होता

Advertisement

सुबह 11:00 बजे गहरी धुंध थी। मैं सरकारी गाड़ी से महिला थाने जा रही थी। रास्ते में मेरी गाड़ी को क्रॉस कर गुजरे ऑटो रिक्शा पर मेरी नजर पड़ी। उसमें काले पर्दे लगे थे। पर्दे के नीचे से बाहर की तरफ पैर निकले दिखे। पैर कभी अंदर तो कभी बाहर की तरफ तेजी से आ-जा रहे थे। जैसे कोई संघर्ष कर रहा हो या तड़प रहा हो। तब कुछ अप्रिय होने का अंदेशा हुआ। मैंने ड्राइवर से कहा कि ऑटो को ओवरटेक करके गाड़ी आगे अड़ाकर रुकवाओ। ड्राइवर ने सिरसा रोड पर ब्लू बर्ड के पास ऑटो को रुकवा लिया। पर्दा हटाकर देखा तो एक युवक ने छात्रा का मुंह दबा रखा था। हमें देखकर वह पीछे हट गया। चालक शिवनगर निवासी विनोद व उसके मौसेरे भाई नवीन को काबू कर लिया। छात्रा सहमी हुई थी। हमें देखकर वह बिलख पड़ी। उसने बताया कि वह कॉलेज जाने के लिए ऑटो में बैठी थी। कॉलेज छोड़ने के बजाय पर्दों की आड़ में गलत काम करने की कोशिश की। विरोध करने पर मारपीट की। छेड़छाड़ व जबरदस्ती की। आप नहीं आतीं तो मेरे साथ न जाने क्या होता। दोनों आरोपी दुष्कर्म के बाद हत्या भी कर सकते थे। आरोपियों के खिलाफ मारपीट, अपहरण, छेड़छाड़, धमकी, एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।’
(जैसा डीएसपी भारती डबास ने बताया)

 

Advertisement

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *