Connect with us

City

बड़ी ख़ुशख़बरी, अब स्मार्ट सिटी के तर्ज़ पर मॉडल टाउन और सुखदेव नगर को चुना गया ख़ास प्रॉजेक्ट के लिए

Published

on

Advertisement

बड़ी ख़ुशख़बरी, अब स्मार्ट सिटी के तर्ज़ पर मॉडल टाउन और सुखदेव नगर को चुना गया ख़ास प्रॉजेक्ट के लिए

स्मार्ट सिटी की तर्ज पर लगेंगे स्मार्ट फीडर, अंडरग्राउंड होंगे बिजली के तार

आप भी ऑनलाइन या हेल्पलाइन नंबर से कर सकेंगे शिकायत

उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम स्मार्ट सिटी की तर्ज पर अब नए स्मार्ट फीडर भी स्थापित करने की याेजना पर काम शुरू कर दिया। याेजना के तहत बिजली निगम स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर संबंधित एरिया काे ताे सुंदर बनाएगा ही साथ ही बिजली सप्लाई भी निर्बाध चलाई जाएगी।

याेजना के तहत शहर के माॅडल टाउन व सुखदेव नगर एरिया चिन्हित किए गए हैं। प्रोजेक्ट कामयाब बनाने के लिए इसकी डीपीआर भी तैयार करके मुख्यालय भेज दी गई है। स्थानीय बिजली अधिकारियों का दावा है कि मुख्यालय से हरी झंडी मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा।

Advertisement

Electric Wires will Underground in City during Smart City Plan

बता दें कि शहर में लगातार बिजली के अवैध कट लगते रहते हैं। स्मार्ट फीडर प्रोजेक्ट से काफी हद तक इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है। इसके अलावा अन्य सुविधाओं को भी इस प्रोजेक्ट से जोड़ा गया है।

Advertisement

माॅडल टाउन पर 5000 व सुखदेव नगर फीडर पर हैं 3500 कनेक्शन, दाेनाें की केबल अंडरग्राउंड हाेंगी

इसलिए, सुखदेव नगर-माॅडल टाउन चुने

ज्यादातर उपभाेक्ताओं के जहन में यह सवाल जरूर आएगा कि स्मार्ट फीडर स्थापित करने के लिए इन्हीं एरिया काे क्याें चुना गया है। बिजली अधिकारियों का कहना है कि याेजना काे पूरी तरह से कामयाब बनाना है। कम समय और कम खर्च में काम पूरा करना है। लाेगाें का विराेध भी नहीं हाेना चाहिए। इन सब पहलुओं काे ध्यान में रखकर ही ये क्षेत्र चिन्हित किए गए हैं।

Advertisement

जानिए, माॅडल टाउन और सुखदेव नगर फीडराें की इस समय क्या है स्थिति

11 केवी फीडर माॅडल टाउन और सुखदेव नगर फीडराें पर फिलहाल 8500 कनेक्शन हैं।

सुखदेव नगर फीडर/सलारगंज फीडर: इस फीडर से 3500 उपभाेक्ता जुड़े हुए हैं। इसमेें पड़ने वाले एरिया में एलटी लाइन की लंबाई करीब 4.50 किलोमीटर है। वहीं 11 हजार वाेल्ट वाली लाइन की लंबाई करीब 2.50 किलाे मीटर है। इससे सुखदेव नगर, देवी मूर्ति काॅालेनी, इंसार बाजार व सिंगला मार्केट समेत आसपास के क्षेत्र जुड़े हैं।

माॅडल टाउन फीडर: इस फीडर से 5000 उपभाेक्ता जुड़े हुए हैं। इसमें एलटी लाइन की लंबाई करीब 6 किलोमीटर है। वहीं 33 केवी लाइन की लंबाई 3.50 किलोमीटर है। इस फीडर से मुल्तान भवन एरिया, आर्य समाज एरिया और डीएवी पार्क समेत आसपास का एरिया जुड़ा हुआ है।

स्मार्ट सिटी से क्या मतलब है? - Quora

स्मार्ट फीडर में मिलेंगी यह पांच सुविधाएं

एलटी व 11 हजार वाेल्ट की लाइन खुली में नहीं रहेगी। सभी तार अंडरग्राउंड होंगे। एलटी लाइनाें काे पूरी तरह से अंडर ग्राउंड डाला जाएगा। 11 हजार वाेल्ट वाली केबल काे अंडर ग्राउंड या पाेल पर रखने का फैसला फिजिबिलिटी के अनुसार लिया जाएगा।

बिजली जाने पर फीडर में ऑनलाइन पता चल जाएगा। वहां से टीम ठीक करने के लिए निकलेगी। आप भी शिकायत कर सकेंगे। इसके लिए ऑनलाइन या हेल्पलाइन नंबर का सहारा मिलेगा।

मीटराें काे पूरी तरह से स्मार्ट किया जाएगा। जिससे ऑनलाइन कनेक्शन काटे जा सकेंगे। मोबाइल की तरह रीचार्ज कर सकेंगे।

फीडराें के लिए कंट्राेल पैनल व हेल्पलाइन सुविधाएं अलग से बनाई जाएंगी। कंट्रोल पैनल पर ही फीडर से देख सकेंगे बिजली कनेक्शन और पता कर सकेंगे कि कहां गई है बिजली।

स्मार्ट फीडर पर एक भी डिफॉल्टर नहीं रहेगा। सीधे कनेक्शन कटेगा, डिफॉल्टर का लोड नहीं झेलेगा स्मार्ट फीडर।

जिला प्रशासन यह 5 काम करवाएगा

  1. ​​​​​​​एरिया की सड़कें साफ रहेंगी।
  2. किसी भी चाैक-चाेराहे पर कूड़े के ढेर नहीं लगने दिए जाएंगे।
  3. सड़काें पर हरा भरा किया जाएगा। पुराने पेड़ाें की कटाई-छंटाई समय-समय पर की जाएगी।
  4. फीडराें काे सुंदर बनाने के लिए पेंटिंग व समय-समय सफाई के लिए कर्मचारी उपलब्ध करवाएगा।
  5. लाेगाें काे जागरूक करने के लिए कार्यक्रम करने में सहयाेग देगा।

याेजना पर जल्द ही शुरू हाेगा काम : एसई -एसएस ढुल, एसई, बिजली निगम।

Advertisement