Connect with us

पानीपत

सिरफिरा पड़ोसी दो बार तुड़वा चुका था रिश्ता, शादी के लिए बना रहा था दबाव, तंग आकर युवती ने फंदे पर लटक दे दी जान

Published

on

सिरफिरा पड़ोसी दो बार तुड़वा चुका था रिश्ता, शादी के लिए बना रहा था दबाव, तंग आकर युवती ने फंदे पर लटक दे दी जान

 

दीनानाथ कॉलोनी की रहने वाली 18 साल की लड़की ने सिरफिरे पड़ोसी से तंग आकर फंदा लगाकर जान दे दी। आरोपी ने दो साल से उसका जीना मुहाल कर दिया था। शादी के लिए दबाव बना रहा था। आते-जाते रास्ता रोककर छेड़छाड़ करता था। भाई ने उसे समझाने का प्रयास किया लेकिन नहीं माना। शादी की जिद पर अड़ा रहा। इस कारण भाई ने तीन महीने के अंदर दो बार बहन का रिश्ता तय कर दिया। आरोपी ने उस रिश्ते को तुड़वा दिया। तंग आकर युवती ने जीवनलाल समाप्त कर ली। पुलिस आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने का केस दर्ज कर आरोपी की तलाश में जुट गई है।

युवती के बड़े भाई ने थाना किला में शिकायत दी। बताया कि वे एक भाई और 3 बहनें हैं। मां की तीन साल पहले मौत हाे गई थी। पिता लकवाग्रस्त हैं। इसलिए परिवार की जिम्मेदारी उनके ऊपर है। सबसे छोटी बहन 18 साल की थी। सोमवार दोपहर को वह खाना खाने के लिए घर पर आया था। उस वक्त बहन ऊपर कमरे में थी। उन्होंने पत्नी को उसे लाने के लिए भेजा। पत्नी ने कमरे में देखा ताे बहन का शव गाडर पर फंदे से शव झूल रहा था। यह देख पत्नी ने उन्हें आवाज लगाई। ऊपर कमरे में पहुंच गए। शव को फंदे से उतार लिया। वह उसे लेकर सिविल अस्पताल में पहुंचे। वहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि मामले की पड़ताल जारी है।

दो साल से कर दिया था जीना दुश्वार

भाई ने आरोप लगाया कि पड़ोसी अमरीश ने पिछले दो साल से बहन का जीना दुश्वार कर दिया था। शादी के लिए जिद कर रहा था। उसे आते-जाते रोक लेता। छेड़छाड़ करता। उन्होंने उसे आरोपी को समझाने की कोशिश की तो उसने कह दिया कि शादी तुम्हारी बहन से ही करूंगा। इस कारण उन्होंने उसकी शादी करने का फैसला कर लिया। ताकि आरोपी उसे परेशान न कर सके। उन्होंने दो बार उसका रिश्ता तय किया। आरोपी ने दोनों बार तुड़वा दिया। इस कारण बहन काफी तनाव में आ गई।

चार दिन पहले की थी मारपीट

पीड़ित ने बताया कि कुछ दिन पहले बहन दिल्ली में अपनी बड़ी बहन के पास गई थी। 4 सितंबर को वह वापस पानीपत के लिए निकली थी लेकिन वह रात 8 बजे घर पहुंची। घर आकर बहन ने यह बात अपनी सबसे छोटी बहन को बताई थी। बताया कि अमरीश ने उसे जबरन बाइक पर बिठाकर अपने साथ ले गया। रात 8 बजे तक बंधक बना रखा। मारपीट भी की। उसने चोट के निशान भी दिखाए। उसने किसी को न बताने की कसम भी दिलाई। यह घटना होने के बाद सबसे छोटी बहन ने उन्हें इस बारे में बताया।

संदूक में मिले 3 फूल, चिप और सिम

भाई ने बताया कि इस घटना के बाद उन्होंने बहन का संदूक खोलकर देखा तो उसमें 3 गुलाब के फूल, आरोपी का फोटो, तीन चिप और एक सिम मिला है। आरोप है कि आरोपी ने यह जबरन ही बहन को दिया होगा।

चिप-सिम की कराई जाएगी जांच : एसएचओ

शिकायत पर आरोपी के खिलाफ धारा 306 के तहत केस दर्ज कर लिया है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। आरोपी की तलाश की जा रही है। वहीं संदूक से बरामद चिप और सिम की जांच शुरू कर दी है।
-दलबीर सिंह, एसएचओ- थाना किला