Connect with us

पानीपत

पानीपत बना क्राइम-सिटी, लगातार मर्डर व लूटपाट से शहरवासी घबरायें, सुरक्षित नहीं पानीपत

Published

on

Advertisement

पानीपत बना क्राइम-सिटी, लगातार मर्डर व लूटपाट से शहरवासी घबरायें, सुरक्षित नहीं पानीपत

 

Advertisement

 

मिस्त्री के भेष में गलियों में घूम रहे 2 बदमाश सेक्टर 11 के बाद अब सतकरतार कॉलोनी में अलमारी की चाबी बनाने के बहाने 3 तोले सोने के गहने और 20 हजार रुपए चुराकर ले गए। दोनों ने रिटायर्ट टीचर और उसकी बहू को चाबी गर्म करने, तेल गर्म करने और पानी लाने जैसे बहाने में उलझाकर रखा।

Advertisement

लॉक के अंदर वे चाबी फंसा गए, इसलिए दो दिन तक लॉक नहीं खुला। जब दूसरे मिस्त्री को बुलाकर अलमारी खुलवाई तब चोरी का पता चला। दोनों वारदातों को एक ही गिरोह के बदमाशों ने अंजाम दिया। उनकी फुटेज भी मिली हैं। आठ मरला चौकी पुलिस ने केस दर्ज कर लिय है।

Advertisement

कहा-गर्म तेल डाला है, 2 घंटे बाद खोलना अलमारी

सतकरतार कॉलोनी गली नंबर 5 निवासी अमित कुमार पुत्र प्रेमसिंह एडवोकेट हैं। अमित ने बताया कि उसकी मां कृष्णा रिटायर्ड टीचर हैं। 4 नवंबर सुबह 11 बजे वह मां और भाभी सीमा के साथ घर पर था। तभी सरदार जैसी वेशभूषा में दो युवक गली में लॉक ठीक कराने की आवाज लगा रहे थे। मां ने अलमारी का लॉक ठीक कराने के लिए बोला तो उसने हां कर दी। तब मां ने दोनों युवकों काे घर के अंदर बुला लिया। तभी फोन आने पर अमित घर से बाहर निकल गया।

अलमारी का मैन लॉक खराब था, जबकि लॉकर का लॉक लगा था। उसमें गहने और कैश रखा था। मां अलमारी के सामने कमरे में बैठी थी। तब एक बदमाश मां के सामने खड़ा हो गया, दूसरा भाभी को कभी चाबी गर्म करने, गर्म तेल लाना या फिर पानी लाने जैसे बहानों में उलझाए रहा। इस बीच बदमाशों ने चाबी बनाकर लॉकर खोला। उसमें से ढाई तोले की सोने की चेन, एक अंगूठी, 3 चांदी की अंगूठी और 20 हजार रुपए कैश चुरा लिया।

H K Key Maker, Cunningham Road - Duplicate Key Makers in Bangalore -  Justdial

जाते समय बोले कि अभी लॉक में गर्म तेल लगाया है, दो घंटे बाद लॉक खोल लेना। फिर लॉक नहीं खुला। दूसरे दिन भी लॉक नहीं खुला। रुपए की जरूरत होने पर 6 नवंबर की शाम को परिजन आठ मरला चौक से दूसरे मिस्त्री को घर ले गए। तब लॉक के अंदर चाबी फंसी मिली। अलमारी खुली तो लॉकर खुला था और उसमें रखे गहने व कैश गायब था।

पीड़ित बोले- भास्कर में बदमाश का फोटो देखकर पहचाना

अमित ने कहा कि 2 नवंबर को सेक्टर 11 निवासी बुजुर्ग दंपती विजय कुमार जैन और उनकी पत्नी रुक्मणी के साथ भी इसी तरीके से वारदात हुई थी। गली में घूम रहे युवक अलमारी की चाबी बनाने के बहाने 4 तोला सोने और 50 हजार रुपए चुराकर ले गए थे। उनका सीसीटीवी फुटेज भास्कर ने 4 नवंबर को छपा था। वारदात के बाद जब मां ने अखबार में फुटेज देखी तो पता चला कि उसी बदमाश ने उनके घर में वारदात की है।

300 मांगे, 100 रुपए लेकर ही भाग गए

आरोपी लॉक ठीक करने के लिए 300 रुपए मांग रहे थे। बाद में थोड़े रुपए कम करने पर भी वे राजी हो गए। वारदात के बाद जब वे जाने लगे तो कृष्णा ने उन्हें रुपए कम करने के लिए बोला। तब वे 100 रुपए पर ही मान गए। एडवोकेट अमित ने 7 नवंबर को पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने चोरी का केस दर्ज किया है।

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *