Connect with us

City

पानीपत की ताक़त यहाँ के उद्योग, लेकिन औद्योगिक क्षेत्रों की हालात खराब

Published

on

Advertisement

औद्योगिक सेक्टरों की समस्याओं की झड़ी देखकर डीसी सुशील सारवान भड़क उठे। उन्होंने संबंधित अफसरों को सख्त लहजे में कहा कि उद्योगों की समस्याओं को हल्के में न लें। समस्याओं का निपटारा 72 घंटे में करके रिपोर्ट दें। एक जुलाई को दोबारा समीक्षा बैठक होगी। इससे पहले शनिवार को सेक्टरों की समस्याओं का मौका मुआयना किया जाएगा।

सभी विभाग के अधिकारी राइट टू सर्विस के दायरे में बकाया कामों को निपटाएं। डीसी सुशील सारवान लघु सचिवालय में आयोजित डिस्ट्रिक्ट लेवल क्लीयरेंस कमेटी की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि औपचारिकता से काम नहीं चलेगा। जो काम पेंडिंग हैं, उन्हें पूरा करें। काम पूरा क्यों नहीं हो रहा इसका कारण बताएं। डीसी की यह कार्रवाई देख उद्यमियों के चेहरे खिल उठे। उन्हें काम होने की उम्मीद बढ़ गई।

Advertisement

औद्योगिक क्षेत्र में विकास के काम अधूरे होने से डीसी नाराज।

उद्यमियों ने बताई सच्चाई

बैठक में सेक्टर 29 पार्ट 1 एसोसिएशन के प्रधान श्रीभगवान अग्रवाल, महासचिव संजीव गर्ग, सेक्टर 25 इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के प्रधान एचएस धम्मू, निर्यातक विनीत शर्मा, पानीपत डायर्स एसोसिएशन के प्रधान भीम राणा, पानीपत इंडस्ट्री एसोसिएशन के पुरुषौतम शर्मा ने अपने-अपने सेक्टर की समस्याएं रखे।

Advertisement

बैठक में सड़क और ड्रेन की समस्या उठी

बैठक में सड़क और ड्रेन की समस्याएं उठाई गई । सेक्टर 29 में फ्लौरा चौक से लेकर प्लाट नंबर 108, जीटी रोड तक सड़क बनाने, बरसाती पानी के लिए नालोंं को निर्माण करवाने की समस्याएं उठाई गई। सेक्टर 25 इंडस्ट्री एसोसिएशन के एचएस धम्मू ने सेक्टर में सड़क न बनने तथा पानी की सप्लाई न होने के मुद्दा रखा। उन्होंने कहा कि चार साल पहले समाधान कार्यक्रम में इस कार्य के लिए पैसे (फंड) की स्वीकृति भी मिल चुकी है। बजट आने के बाद विकास कार्य नहीं करवाए जा रहे।

उद्यमी हैरान, पहली बार दिखी सख्ती

बैठक में शामिल उद्यमी डीसी, एडीसी के रूख को देखकर हैरान हो गए। उद्यमियों ने बताया कि पहली बार इस तरह की मीटिंग देखने को मिली। जिसमें डीसी एडीसी ने अधिकारियों को झाड़ा हो।

Advertisement

बैठक में मौजूद रहे

नगर निगम के एक्सईएन, एमई, बिजली निगम के एसडीओ, जिला योजनाकार अशोक गर्ग,, हशविप्रा के एक्सईएन जगमाल, एचएसआइआइडीसी के स्टेट मैनेजर मनजीत, जिला उद्योग केंद्र की डिप्टी डायरेक्टर क्षितिज कपूर मौजूद रहीं।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *