Connect with us

City

पानीपत में दर्दनाक हादसा

Published

on

Advertisement

ढाबे पर काम कर लौट रहीं 2 महिलाओं को ट्रक ने कुचला; मौके पर ही मौत; आरोपी ट्रक चालक को लोगों ने पकड़ा

 

पानीपत में GT रोड पर शनिवार तड़के दर्दनाक हादसे में दो महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गई। मकान मालकिन और उनकी किरायेदार महिला ढाबे पर काम करके पैदल ऑटो की तलाश में जा रही थी।

Advertisement

तभी पीछे से आए तेज रफ्तार ट्रक ने दोनों को कुचल दिया। आसपास के लोगों ने ट्रक चालक को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। मृतक महिला के बेटे की शिकायत पर सेक्टर-29 थाना पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज किया है। मूलरूप से उत्तर-प्रदेश के आजमगढ़ जिले के गांव मधबन निवासी संजय ने बताया कि उनका परिवार पिछले 8 साल से काबड़ी रोड स्थित गंगाराम कॉलोनी में रहता है। उनके मकान में बिहार के सिवान जिले के गांव सिकरिया मदारपुर निवासी अवध शर्मा का परिवार किराये पर रहता है। उनकी मां आरती और अवध शर्मा की पत्नी सुनीता सिवाह के पास एक ढाबे पर काम करती थी।

Advertisement

शनिवार सुबह साढ़े 5 बजे काम के बाद दोनों ऑटो की तलाश में सिवाह अड्‌डे की ओर आ रही थी। तभी समालखा की ओर से आए तेज रफ्तार ट्रक ने दोनों को कुचल दिया। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद आसपास के लोगों ने ट्रक चालक को पकड़कर पुलिस को सूचना दी।

मौके पर पहुंची सेक्टर-29 थाना पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर आरोपी ट्रक चालक को हिरासत में लिया है। ट्रक चालक राजस्थान निवासी महाबीर है। पुलिस ने मृतका आरती के बेटे संजय की शिकायत पर ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज किया है।

Advertisement

आठ साल से किराये पर रह रहे
संजय ने बताया कि सुनीता अपने परिवार समेत करीब 8 साल से उनके मकान में किराये पर रहती थी। पति अवध शर्मा कबाड़ी का काम करते हैं। एक महीने पहले ही वह बिहार अपने पैतृक गांव गए थे। पीछे से हादसे ने उनकी पत्नी को छीन लिया। सुनीता की मौत से 14 साल के राजा व 13 साल की बेटी काजल के सिर से मां का साया उठ गया। वहीं, वह और उसकी बहन को मां छोड़ चुकी हैं। पिता हरेराम पांडेय एक फैक्ट्री में काम करते हैं।

Advertisement