Connect with us

पानीपत

बेटी होने पर महिला से करते थे मारपीट, दोबारा गर्भवती हुई तो घर से निकाला

Published

on

बेटी होने पर महिला से करते थे मारपीट, दोबारा गर्भवती हुई तो घर से निकाला

 

 

 

दलबीर नगर की रहने वाली विवाहिता को ससुराली पहले दहेज में एक लाख रुपए कैश और बाइक की मांग को लेकर मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करते थे। बेटी होने पर और जुल्म ढाना शुरू कर दिया। फिर से गर्भवती होने पर मारपीट कर बेटी संग घर से निकाल दिया। इस मामले में पीड़िता ने मुख्यमंत्री को शिकायत दी थी।

बताया कि फरवरी 2018 में उसकी शादी फतेहाबाद के रहने वाले सुनील से हुई थी। शादी के बाद से ही ससुरालियों ने दहेज की मांग को लेकर यातनाएं और ताने देना शुरू कर दिया। धीरे-धीरे कर उनकी मांग बढ़ती चली गईं। अक्टूबर, 2018 में उसने बेटी को जन्म दिया। इसके बाद तो ससुरालियों से जीना दुश्वार कर दिया। जेठ भी उस पर बुरी नीयत रखता था।

एक दिन मौका पाकर छेड़छाड़ कर दी। ससुराली भी जेठ का ही साथ देते थे। बेटी के जन्म देने के 10 दिन बाद ही ससुराली उसे मायके में छोड़ गए। पंचायत के बाद उसे साथ रखने को तैयार हुए। इसके बाद भी उनकी हरकतों में सुधार नहीं आया। जून 2019 में उसे बेटी संग मारपीट कर घर से निकाल दिया। तभी से वह मायके में रह रही है। एएसआई नरेश ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

9 माह पहले पत्नी को मायके छोड़ने गया युवक नहीं लौटा घर

मतलौडा के खटीक मोहल्ले का रहने वाला युवक 9 महीने पहले पत्नी को मुजफ्फरनगर स्थित मायके में छोड़ने गया था। वो अभी तक वापस नहीं लौटा है। इस मामले में उसकी मां सरबती ने थाना मतलौडा में शिकायत दी। बताया कि छोटा बेटा जितेंद्र 29 दिसंबर की दोपहर 3 बजे अपनी पत्नी ज्योति को मुजफ्फरनगर के गांव मोरना में छोड़ने के लिए घर से निकला था।

उसके बाद वह वापस नहीं लौटा। उन्होंने उसका मोबाइल बहुत बार लगाने की कोशिश की, लेकिन मोबाइल ऑफ होने के कारण बात नहीं हो सकी। वह तलाशते हुए ज्योति के घर पहुंचे तो उसने कहा कि वह अगले दिन ही वापस घर के लिए निकल गया था। मां ने पूरा शक उसकी पत्नी और ससुरालियों पर जताया। अनहोनी की आशंका जताई। एएसआई नरेश ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

 

Source : Bhaskar

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *