Connect with us

समाचार

गधे की लीद, एसिड से बनाते थे मसाले; ब्रांडेड कंपनियों के रैपर में भरकर मार्केट में करते थे सप्लाई

Published

on

Advertisement

गधे की लीद, एसिड से बनाते थे मसाले; ब्रांडेड कंपनियों के रैपर में भरकर मार्केट में करते थे सप्लाई

 

हाथरस सदर कोतवाली बाजार के नवीपुर में नकली मसाला बनाने वाली फैक्ट्री का खुलासा हुआ है। नकली मसाले बनाने में गधे की लीद, एसिड, भूसा और कैमिकल का प्रयोग किया जा रहा था। मसाला बनाने के बाद इसे ब्रांडेड कंपनियों के रैपर में सीलबंद कर बाजार में सप्लाई किया जा रहा था।

Advertisement
मौके से बरामद ब्रांडेड कंपनियों के रैपर।
मौके से बरामद ब्रांडेड कंपनियों के रैपर।

पैक्ड व अन-पैक्ड मसाले बरामद
ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने बताया कि नवीपुर में संचालित अवैध फैक्ट्री सूचना मिली थी। सूचना के बाद टीम के साथ फैक्ट्री पर छापा मारा गया। मौके पर भारी मात्रा में नकली मसाले जैसे कि धनिया, हल्दी, लाल मिर्च, गरम मसाला इत्यादि स्टॉक किया गया था। साथ ही नकली मसाला तैयार करने के लिए उपयोग में लाए जाने वाला कच्चा सामान जैसे भूसा, रंग इत्यादि की बोरियां पाई गई। फैक्ट्री में विभिन्न ब्रांड के लगभग 1000 के करीब पैकिंग के लिए खाली पैकेट और भरे हुए मसालों के करीब 100 पैकेट पाए गए।

गधे की लीद को दिखाता कर्मी।
गधे की लीद को दिखाता कर्मी।

लाइसेंस संबंधी कोई कागजात नहीं दिखा सका मालिक

Advertisement

जॉइंट मजिस्ट्रेट ने जब फैक्ट्री मालिक अनूप वार्ष्णेय से इन ब्रांडों के लाइसेंस संबंधी कागजात मांगे तो मौके पर वह कोई भी लाइसेंस संबंधी कागज प्रस्तुत नहीं कर पाए। फैक्ट्री को तत्काल सील कर दिया गया है। खाद्य एवं औषधि विभाग और पुलिस विभाग विधिक कार्रवाई करने में जुटा है। बरामद माल की कीमत का आकलन किया जा रहा है।

 

Advertisement

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *