Connect with us

City

अंसल में 1500 परिवारों के पानी के कनेक्शन काटेंगे, जानिए वजह

Published

on

Advertisement

अंसल में 1500 परिवारों के पानी के कनेक्शन काटेंगे, जानिए वजह

अंसल सुशांत सिटी में बने 1500 मकानों और उनमें रहने वाली 6000 से अधिक आबादी पर पानी का संकट आने वाला है। इन मकानों के पानी के कनेक्शन काटने का निर्णय जिला योजनाकार विभाग ने ले लिया है। इस संबंध में विभाग ने 800 मकान मालिकों को नोटिस जारी कर दिया गया है। 700 मकान मालिकों को इसी सप्ताह नोटिस जारी किया जाएगा। पानी के इस संकट की वजह ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट है। इन मकानों में लोगों ने विभाग से बगैर ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट लिए ही रहना शुरू कर दिया है, जिसकी वजह से यह कार्रवाई की जा रही है।

पानीपत। अंसल सोसाइटी।

Advertisement

जिला योजनाकार विभाग लगातार उन भवनों पर कार्रवाई कर रहा है जो या तो नियमों के विरुद्ध बने हैं या फिर इन्होंने निर्माण के बाद डीटीपी से ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट नहीं लिया है। इसी कड़ी में विभाग ने शहर की सबसे बड़ी सोसायटी अंसल सुशांत सिटी में कार्रवाई शुरू कर दी गई है। ऐसे में अंसल के लोगों की परेशानी बढ़ गई है। वहीं दूसरी ओर सुशांत रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन इस संबंध में डीटीपी के साथ बैठक कर समय मांग चुकी है। अब तक विभाग की ओर से समय नहीं दिया गया है। अब एसोसिएशन इस संबंध में दोबारा डीटीपी के साथ मुलाकात करेगी।

20 साल पहले अस्तित्व में आई सिटी में अब रहते हैं तीन हजार परिवार

Advertisement

20 साल पहले अंसल सुुशांत सिटी पानीपत में अस्तित्व में आई थी। यहां पर तीन हजार परिवार रहते हैं। 1500 परिवार ऐसे हैं, जिन्होंने 8 से 10 साल पहले यहां रहना शुरू किया। इन मकान मालिकों ने डीटीपी कार्यालय से ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट नहीं लिया और रहने लगे। जबकि नियमानुसार मकान बनाने के बाद विभाग निरीक्षण करता है। देखता है कि मकान नियमानुसार बना है या नहीं। इसके बाद ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट जारी करता है। जिसके जरिए विभाग इस बात की पुष्टि करता है कि मकान के निर्माण की गुणवत्ता ठीक और यह रहने लायक है।

Advertisement

होटल स्वर्ण महल पर भी लग चुका है ताला

समालखा के पास जीटी रोड पर कई एकड़ में बने आलीशान स्वर्ण महल होटल पर भी एक साल पहले डीटीपी ने कार्रवाई की थी। होटल मालिक के पास ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट नहीं था। आज भी उस होटल पर ताला लटका हुआ है।
इसलिए जरूरी है ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट

बगैर ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट को अनाधिकृत माना जाता है और उसे गिराया जा सकता है ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट के बिना न होम लोन मिलेगा, न ही प्रापर्टी को बेचा जा सकता है पानी, सीवर, बिजली जैसी आम सुविधाएं ऑक्यूपेशन सर्टिफिकेट न होने पर बंद कर दी जाएंगी

हम डीटीपी के साथ मुलाकात करेंगे : गुंबर
लोगों को नोटिस जारी हो रहे हैं। हम इस संबंध में डीटीपी के साथ एक मुलाकात कर चुके हैं। अब दोबारा फिर डीटीपी के साथ मुलाकात करेंगे। इसका समाधान निकालेंगे।

-सुरेश गुंबर, प्रधान सुुशांत रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन

बिना ओसी वालों पर कार्रवाई तय : गर्ग

जिन लोगों ने बिना ओसी लिए मकानों में शिफ्टिंग कर दी है, उनको नोटिस जारी कर रहे हैं। अभी नोटिस जारी करने में समय लग रहा है। सभी को नोटिस जारी कर उनके पानी के कनेक्शन काटे जाएंगे।
-अशोक गर्ग, डीटीपी, पानीपत

Advertisement