Connect with us

City

एनके जिंदल से सनौली रोड पर पानी भरने की समस्या का हल जानने का हमने किया प्रयास

Published

on

Advertisement

नगर निगम में 20 साल तक एमई रहे एनके जिंदल से सनौली रोड पर पानी भरने की समस्या का हल जानने का हमने किया प्रयास

सनौली रोड की दुर्गति के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) और पानीपत नगर निगम दोनों जिम्मेदार हैं। जब तक सनौली रोड की ऊंचाई नहीं बढ़ेगी, दोनों ओर नाले नहीं बनेंगे, यह समस्या दूर नहीं हाेने वाली है। विद्यानंद कॉलोनी के नाले और सनौली रोड के लेवल को तो देखिए। कम से कम एक फुट का अंतर है दोनों में। सनौली रोड के दोनों ओर नाले भी सालों से बंद पड़े हैं। जाहिर है, ऐसे में पानी कहां जाएगा। दोनों विभागों को मिलकर इसका स्थाई समाधान करना होगा।

Advertisement

नगर निगम में 20 साल तक एमई रहे एनके जिंदल से हमने जानने का प्रयास किया कि आखिर सनौली रोड पर इतनी दिक्कत क्यों हाे रही है। यह रोड तो आज की नहीं वर्षों से है। रोड पर पानी भरने की समस्या तो पिछले तीन साल से है। जिंदल ने सनौली रोड का दौरा कर बताया कि सनौली रोड की ऊंचाई विद्यानंद कॉलोनी से कम से कम एक फुट ऊपर उठानी पड़ेगी। नाला एनएचएआई बनवाए या नगर निगम- पानी निकासी होगी तो ही इसका स्थाई समाधान होगा।

सनाैली राेड पर गंदा पानी साफ करवा गड्ढों में मिट्टी भरवाई, स्थानीय लोगों ने धरना किया खत्म

Advertisement

मार्बल मार्केट में 3 साल से चली आ रही गंदे पानी और गड्ढों की समस्या के खिलाफ चल रहा धरना शुक्रवार काे खत्म का दिया। इसकी अगुवाई कर रहे सर्व समाज एकता मंच के प्रधान रामरतन शर्मा ने कहा कि धरना शुरू हाेते ही नगर निगम अधिकारियों तेज गति से काम कराते हुए गंदा पानी साफ करवा दिया। साथ गड्ढों में मिट्टी डलवाकर सड़क काे समतल भी कर दिया। इसके साथ ही धरना वापस लिया गया है। साथ ही नेताओं व अधिकारियों काे चेतावनी दी है कि अगर 15 दिनाें के भीतर पक्की सड़क नहीं बनी ताे फिर से अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया जाएगा।

विजय जैन बने प्रधान : सनौली रोड पर बबैल नाका से मार्बल मार्केट की दुकानाें का प्रधान जैन स्वीट वाले विजय जैन को बनाया गया है। सोसायटी प्रधान राम रतन शर्मा व उनके साथियों ने प्रधान का फूल मालाओं से स्वागत किया। इस अवसर बाबूराम कौशिक, विजय जैन, भूपेंद्र मलिक, शोएब आलम, नरेंद्र शर्मा, जयदेव शर्मा, ताहिर अहमद, संजय, अबरार अहमद, आबिद अंसारी, राजेंद्र, रितेश शर्मा, अशरफ अंसारी, आसिफ अंसारी व सोनू शर्मा माैजूद रहे।

Advertisement

इन 4 पॉइंट से जानिए, समस्या और समाधान

  • 1. नाले सालों से बंद पड़े हैं, अब थड़े तोड़ रहा निगम

सनौली रोड के दोनों ओर के नाले सालों से बंद पड़े हैं। अब जब सिर से ऊपर पानी गुजरने लगा तो नगर निगम ने नालों की सफाई भी शुरू कराई है और थड़े भी तोड़े जा रहे हैं। यह पहले करते तो ऐसी स्थिति नहीं बनती। दुकानदारों को भी परेशानी नहीं होती।

  • 2. रोड की ऊंचाई कम, कॉलोनी से ऊंचा उठाएं

​​​​​​​सनौली रोड की ऊंचाई कम है। विद्यानंद कॉलोनी हो या दक्षिण की ओर की दुकानें, रोड का लेवल कम से कम एक फुट कम है। एनएचएआई इस प्रभावित एरिया में कंक्रीट की रोड बनाकर कॉलोनी से कम से कम एक फुट ऊंचाई बढ़ाए।

  • 3. एनएचएआई खुद भी बनवा सकता है नाले

सनौली रोड की दुर्गति के लिए एनएचएआई मुख्य जिम्मेदार है। एनएचएआई की रोड हमेशा आसपास की कॉलोनियों से ऊंची होती है। सनौली रोड इसका अपवाद है। एनएचएआई खुद भी तो रोड के दोनों ओर नाले बनवा सकता है। जैसा कि जीटी रोड के दोनों ओर बनवाया है।

  • 4. दुकानदार भी इस दुर्गति के बड़े भागीदार

यहां के दुकानदार भी इस दुर्गति में बड़े भागीदार हैं। नाला बंद करके थड़े बना दिए। अब जब नाला बंद होगा तो पानी रुकेगा। जब तक दुकानदार इस बात को नहीं समझेंगे, यह स्थिति नहीं सुधरेगी।​​​​​​​

Advertisement