Connect with us

विशेष

अचानक बदलेगा मौसम, जानिए मौसम विज्ञानियों ने क्‍यों जताई चिंता

Published

on

Advertisement

Advertisement

Advertisement

मूसलाधार बरसात के बाद अब तीन दिन प्रदेश में बरसात की संभावना कम है। हालांकि कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी हो सकती है, लेकिन ज्यादातर जगहों पर मौसम साफ हो जाएगा। इस समय कम दबाव का क्षेत्र सौराष्ट्र और कच्छ और आसपास के क्षेत्र पर बना हुआ है।

मानसून की अक्षीय रेखा इस निम्न दबाव वाले क्षेत्र के केंद्र से होते हुए पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी तक सूरत, जलगांव, अकोला, जगदलपुर और कलिंगपट्टनम होते हुए जा रही है। चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण ओडिशा और इससे सटे उत्तरी आंध्र प्रदेश पर बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर मध्य पाकिस्तान के ऊपर बना हुआ है। लेकिन इसका प्रदेश के मौसमी सिस्टम पर ज्यादा प्रभाव देखने को नहीं मिलेगा। मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि 17 से मौसम फिर करवट ले सकता है। 18 व 19 जुलाई को प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में फिर से तेज बरसात हो सकती है।

Advertisement

Rajasthan Rain Forecast 12 July 2021 - मौसम अपडेट: आज राजस्थान के इन जिलों  में भारी बारिश होने की संभावना | Patrika News

जानिये अगले 24 घंटों के दौरान देशभर में मौसमी सिस्टम की स्थिति

Advertisement

अगले 24 घंटों के दौरान, कोंकण और गोवा, तटीय कर्नाटक, केरल के कुछ हिस्सों, पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश, मराठवाड़ा, मध्य महाराष्ट्र, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, और निकोबार द्वीप समूह, उत्तर के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बरसात के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

यहां पर तेज बारिश

विदर्भ, तेलंगाना, दक्षिण-पश्चिम उत्तर प्रदेश, दक्षिण गुजरात और शेष पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में छिटपुट हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक दो स्थानों पर कुछ देर के लिए तेज बरसात हो सकती है। ओडिशा, दक्षिण छत्तीसगढ़, राजस्थान के कुछ हिस्सों, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, दिल्ली, रायलसीमा और आंतरिक कर्नाटक में हल्की से मध्यम बरसात हो सकती है। बिहार, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश के शेष हिस्सों, तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश संभव है।

किसानों के लिए मौसम अलर्ट: मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र समेत इन राज्यों में  जमकर बरसेंगे बादल, जल्द पूरे भारत को कवर कर लेगा मॉनसून | Monsoon rain ...

कैथल में रुक-रुक बरसात, किसान खुश

मंगलवार को शुरू हुई बरसात वीरवार को तीसरे दिन भी रुक-रुक कर जारी है। इस बरसात जहां किसान खुश है और धान रोपाई के कार्य में तेजी आई है। मौसम विभाग के अनुसार अभी 18 जुलाई तक लगातार बरसात होने की संभावना बनी रहेगी। बता दें कि बुधवार रातभर से जिलेभर में बरसात हो रही है। बरसात किसानों के लिए वरदान साबित होगी। इससे धान की फसल को काफी फायदा मिलेगा। धान की रोपाई होने से फसल में फुटाव अच्छा होगा। बारिश से मौसम काफी सुहाना हुआ। लोगों को गर्मी से राहत भी मिली।

 

पिछले कई दिनों से मौसम का मिजाज बार-बार बदल रहा है। पहले जहां लोग तपती धूप व लू की थपेड़ों से परेशान थे, वहीं अब पिछले तीन दिन से मौसम में समय-समय पर बदलाव हो रहा है। करीब सुबह एक घंटे तक रुक-रुक कर हुई तेज बरसात से गलियों व शहर की सड़कों पर जलभराव हो गया। कृषि समन्वयक रमेश चंद्र ने बताया कि कृषि कार्य के लिए बरसात फायदेमंद है। इसके अलावा जिन किसानों ने ज्वार की बुआई कर दी है, उनके लिए भी बरसात फायदेमंद हुई। सभी फसलों के लिए काफी लाभदायक है। किसानों को जुताई में काफी आसानी होगी।

Source Jagran

Advertisement

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *