Connect with us

लाइफ स्टाइल

डेटिंग ऐप्स के बारे में क्या सोचते हैं आज के युवा?

Published

on

Advertisement

एक समय था, जब रिश्ते सिर्फ घरवाले तय किया करते थे। हालांकि, बदलते समय के साथ लोगों का अपना साथी खुद चुनना भी आम होता गया। ऐसी रिलेशनशिप्स ज्यादातर कॉलेज या प्रफेशनल लाइफ में एंटर होने के बाद शुरू होती हैं, लेकिन पिछले कुछ समय में डेटिंग ऐप्स का क्रेज भी लोगों में काफी बढ़ गया है। अब डेटिंग करना और इसके लिए पसंद का साथी मोबाइल स्क्रीन पर सिर्फ एक टच से हो सकता है। लॉकडाउन पीरियड और कोरोना से बनी स्थितियों के बीच ये ऐप्स लोगों को लिए सहूलियत बनकर आए। खासतौर से युवा पीढ़ी के लिए। ऐसे में हमने जानने की कोशिश की कि यंग जेनरेशन इस बारे में क्या सोचती है। (सभी फोटोज: इंडियाटाइम्स)

 

Advertisement

घर में बैठे भी जुड़ जाते हैं रिश्ते

‘जिस स्थिति से हम सब गुजर रहें है उसके लिए ऑनलाइन डेटिंग बहुत मददगार है। आप इस समय किसी से मिल नहीं सकते और घर में बैठे-बैठे जाहिर सी बात है दोस्तों की कमी आपको खलने ही लगती है। ऐसे समय में नए लोगों से मिलना, प्यार भरी बातें करना, उनके बारे में जानना और उनसे कुछ सीखना व उन्हें सीखना काफी मजेदार साबित हो सकता है। ऐसे समय में हम एक-दूसरे से आमने-सामने तो मिल नहीं सकते हैं, तो ऑनलाइन ही बातें करना सुरक्षित होता है।’ -विशाल सुखवानी

Advertisement

भरोसा करना मुश्किल है

‘ऑनलाइन डेटिंग को लेकर सब बोलते हैं कि इसमें सबकुछ आसान हो जाता है, मगर अच्छी चीजों के साथ बुरी चीजें भी आती हैं। आप किसी का भरोसा नहीं कर सकते हैं। आजकल फेक प्रोफाइल बनाना काफी आसान हो है। लोग इसे बनाकर आपको अपने प्यार के चंगुल में फंसा लेते हैं और आपका फायदा उठाते हैं। वे तब तक ऐसा करना जारी रखते हैं, जब तक उनकी जरूरतें पूरी नहीं हो जातीं। ऐसा नहीं है कि ये सब असल जिंदगी में नहीं होता, मगर ऑनलाइन की दुनिया में इन चीजों का पता लगाना रियल लाइफ के मुकाबले काफी मुश्किल होता है।’ -श्रेया गुप्ता

Advertisement

लड़कियों के लिए है थोड़ा खतरनाक

 

‘लड़कियों के लिए ये डेटिंग साइट्स या ऑनलाइन डेटिंग करना खतरे से खली नहीं होता। आपको नहीं पता कि कौन, कब और कहां से आपकी पिक्चर का गलत इस्तेमाल कर ले या आपका सारा डेटा चुरा ले। सबसे डरावना तो ये है कि आपको इस बारे में पता भी नहीं चलता है। ‘-अंजलि देवीद

इस्तेमाल करने में आता है मजा

‘डेटिंग ऐप्स का इस्तेमाल करना काफी आसान होता है। आपको अपनी डीटेल्स डालनी है, आपका इंटरेस्ट बताना है और आप त्यार हैं। सबसे अच्छी बात इन ऐप्स की ये है कि ये यूजर फ्रेंडली हैं। ये दूसरे सोशल मीडिया ऐप्स से काफी मिलता-जुलता है। इसमें आप मैच मेकिंग के साथ चैट भी कर सकते हैं और चाहे तो मेल भी कर सकते हैं। ये आपको उसी तरह के लोगों से मिलवाता है, जो आपकी रुचि से मेल खाते हों।’-रौनक सिंह

डेटिंग ऐप्स हैं नए रिश्तों का जरिया

 

‘आज इंटरनेट इश्क को देखने का चश्मा बन चुका है। इन डेटिंग ऐप्स ने रिश्ते में एक पुरुष और स्त्री की भूमिका नए तरीके से हमारे सामने लाई है। जैसे कुछ ऐप्स में आजकल अगर लड़की आपको न चाहे तबतक आप मैच नहीं हो सकते हैं, जो उनकी सुरक्षा के लिए काफी सही है। एक ऐसे वक्त में जब हर कोई एक-दूसरे के साथ जुड़ा भी है और अकेला भी है उस वक्त ये ऐप्स किसी नए साथी से मिलने में बहुत काम आते हैं। ‘-सिद्धार्थ शर्मा

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *