Connect with us

City

माॅडल टाउन के शांति नगर में लव मैरिज के करीब डेढ़ साल बाद ही पत्नी की गला घाेंटकर हत्या

Published

on

Advertisement

माॅडल टाउन के शांति नगर में लव मैरिज के करीब डेढ़ साल बाद ही पत्नी की गला घाेंटकर हत्या कर पति ने फंदा लगाकर जान दे दी। वारदात 20 जून की है, मंगलवार काे बदबू आने पर कमरा खाेला ताे पत्नी का शव बेड पर पड़ा था और पति चुनरी से फंदे पर लटका था। माैके से एक सुसाइड नाेट मिला।

उसके अनुसार, महिला ने प्रेमजाल में फंसा उससे लव मैरिज की। बाद में पता चला कि वाे पहले से शादीशुदा है। उसके 21 साल का बेटा और 18 साल की बेटी है। वह पहले पति से बातचीत करती थी। पहले पति, मां व छाेटे भाई के साथ मिलकर उसे ब्लैकमेल करने लगी। इससे परेशान हाेकर युवक ने यह कदम उठाया। माॅडल टाउन थाना पुलिस ने दाेनाें शव सिविल अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाए हैं। बुधवार काे पाेस्टमार्टम हाेगा।

Advertisement

आसन कलां निवासी कृष्ण ने बताया कि उनका बेटा 27 वर्षीय मनाेज तंवर ठेकेदार के जरिए रिफाइनरी में सुपरवाइजर था। वहां साेनीपत की 38 वर्षीय रानी उर्फ आशा ठेके पर काम करती थी। दाेनाें वहीं मिले थे। तब आशा की मां से बात की ताे वाे भी राजी थी। 19 जनवरी 2020 काे करनाल के ब्राह्मण धर्मशाला में दाेनाें ने लव मैरिज कर ली। तब लड़की पक्ष की ओर से काेई भी शादी में शामिल नहीं था। बात में पता चला कि आशा के दाे बच्चे भी हैं।

फंदे पर लटका युवक व बेड पर पड़ा महिला का शव। - Dainik Bhaskar

Advertisement

जींस व छाेटे कपड़े पहनने से राेका ताे दी थी शिकायत

कृष्ण ने बताया कि शादी के बाद आशा आसन कलां में रहने लगी। गांव में वह जींस और छाेटे कपड़े पहनती थी, जब बेटे ने समझाया ताे थर्मल चाैकी में शिकायत दे दी। शादी में मां शामिल नहीं हुई, लेकिन चाैकी में पहुंच गई थी। गांव में रहने से मना कर दिया। तब बेटे का घर बसाने के लिए वह तैयार हाे गए।

Advertisement

दिसंबर 2020 से वे शांति नगर में ददलाना सीएचसी के ब्लाॅक इंस्पेक्टर बलराज के मकान में किराए पर रह रहे थे। शहर में प्लाॅट खरीदने के नाम पर बेटा रुपए लेकर जाता था, लेकिन प्लाॅट नहीं खरीदा। मंगलवार काे पुलिस ने घटना की जानकारी दी ताे माैके पर पहुंचे। दाे भाइयाें में मनाेज छाेटा था। पिता खेतीबाड़ी व बड़ा भाई सुनील मजदूरी करता हैं।

सुसाइड नाेट… जन्मदिन पर मिली थी आशा, वीडियाे बना करने लगी ब्लैकमेल

पुलिस काे कमरे से 3 पेज का सुसाइड नाेट मिला है। जिसमें मनाेज ने लिखा कि 30 जनवरी 2019 काे जन्मदिन के दिन आशा से समालखा हाेटल में मिला। तब आशा ने धाेखे से वीडियाे बना लिया। फिर मां, छाेटे भाई और युवक के साथ मिलकर ब्लैकमेल करने लगी। तब लव मैरिज कर ली। बाद में पता चला कि वह युवक उसका पहला पति है। सैलेरी आते ही रुपए ऐंठ लेते थे।

कहते थे कि गांव की जमीन बेचकर आशा के नाम पर शहर में प्लाॅट खरीदाे। साले ने बाइक खरीदी ताे उसकी किस्त भी भरी। आशा 3-3 दिन तक खाना नहीं देती और न ही कपड़े धाेती थी। वह पहले पति से बातचीत करती थी। राेकने की काेशिश की ताे कभी कपड़े फाड़ लेती थी ताे कभी किचन में जाकर चाकू उठा लेती थी। मुझे डराती थी।

वह लगातार 3 दिनाें से मेरा नंबर ब्लैकलिस्ट में डालकर पहले पति से बात कर रही थी। परेशान हाेकर 20 जून काे आशा की गला घाेंटकर हत्या कर रहा हूं और खुद फांसी लगाकर जान दे रहा हूं। अंत में लिखा- मम्मी- पिताजी साॅरी। ये गलत कदम उठा रहा हूं। ये तुम दाेनाें काे भी जेल भिजवा देते। पहले भी इन्हाेंने एक केस कर दिया था।

दादी की माैत में शामिल हुआ ताे कर दिया था क्लेश

पिता ने बताया कि मनाेज गांव में नहीं आता था। एक जून काे उसकी दादी लखमीरी की माैत हाे गई थी, तब वह करीब एक घंटे के लिए आया था। तब आशा ने क्लेश कर दिया था। मंगलवार काे मकान मालिक की पत्नी कपड़े डालने के लिए छत पर गई ताे उसे बदबू आई। गेट न खोलने पर 100 नंबर पर काॅल किया ताे पुलिस माैके पर पहुंच गई। दरवाजा ताेड़ा ताे दाेनाें के शव मिले।

दाेनाें पक्ष नहीं चाहते कार्रवाई

मनाेज-आशा पक्ष के लाेग काेई कार्रवाई नहीं चाहते। इसलिए 174 की कार्रवाई की गई है। बुधवार काे पाेस्टमार्टम कराया जाएगा। मामले में जाे तथ्य सामने आएंगे, उसके अनुसार आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।-याेगेश कटारिया, एसएचओ, माॅडल टाउन थाना

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *