Connect with us

पानीपत

आंख में तेजाब जाने से पीड़ित महिला को दिखना बंद, दरिंदों की फुटेज दिखाई तो बोली- सब धुंधला दिख रहा है, एक आंख की पुतली हुई सफेद

Published

on

आंख में तेजाब जाने से पीड़ित महिला को दिखना बंद, दरिंदों की फुटेज दिखाई तो बोली- सब धुंधला दिख रहा है, एक आंख की पुतली हुई सफेदg

 

देसराज कॉलोनी में नीलकमल फैक्ट्री के पास सोमवार को 35 वर्षीय महिला पर तेजाब फेंकने वाले बाइक सवार दोनों दरिंदों को पुलिस नहीं ढूंढ़ पाई। मंगलवार को मामला गृहमंत्री अनिल विज तक पहुंच गया और उन्होंने एसपी से बात कर दरिदों को जल्द गिरफ्तार करने के आदेश दिए। विज ने कहा कि पुलिस टीमें आरोपियों की तलाश में लगी है, जल्द गिरफ्तार करेंगे। लेकिन देर रात तक पुलिस दोनों दरिदों में से किसी की भी पहचान तक नहीं कर पाई।

वहीं, पति ने बताया कि पत्नी की दोनों आंख में तेजाब गया है। एक आंख की पुतली सफेद हो गई और उससे बिल्कुल भी नहीं दिखाई दे रहा है। पत्नी को सब धुंधला नजर आ रहा है। पुलिस बयान लेने के लिए रोहतक पीजीआई पहुंची और उसके बयानों की वीडियोग्राफी की गई। पुलिस ने दरिंदों की फुटेज पीड़िता को दिखाई तो वह बोली कि सब कुछ धुंधला दिख रहा है। पति ने कहा कि डॉक्टर ने आंख में दवा डालने के लिए दी है अब रोशनी वापस आने पर संशय बना है। मुंह, गर्दन व हाथ पर झुलसी भी है। हालत में मामूली सुधार है। वहीं, मामले में किला थाना एसएचओ दलबीर सिंह का कहना है कि जल्द ही आरोपियों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

पुलिस ने दिनभर खंगाले सीसीटीवी कैमरे
किला थाना पुलिस और सीआईए-2 की टीम ने मंगलवार को दिनभर में करीब 14 सीसीटीवी कैमरे की जांच की। उनकी दरिदों की बाइक के आगे-पीछे नंबर नहीं था। तेजाब डालकर वे सरकारी स्कूल की तरफ भागे हैं। पुलिस जिस फैक्ट्री में महिला काम करती थी, वहां भी गई। वहां मजदूरों और आसपास के एरिया के लोगों को फुटेज दिखाई, लेकिन आरोपियों की पहचान नहीं हो पाई। पति ने बताया कि पत्नी कह रही है कि दरिदों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए।

आईपीसी 326ए में केस दर्ज, उम्रकैद तक संभव
पीड़ित महिला की शिकायत पर किला पुलिस ने बाइक सवार अज्ञात दो युवकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 326ए और 34 के तहत केस दर्ज किया है। एसिड अटैक की बढ़ती घटनाओं के चलते 326ए धारा बनाई गई थी। इसमें दाेषी साबित हाेने पर कम से कम 10 साल और ज्यादा से ज्यादा उम्रकैद की सजा का प्रावधान है।

यह था मामला
राजीव कॉलोनी निवासी 35 वर्षीय महिला देसराज कॉलोनी में कंबल की एक फैक्ट्री में काम करती है। सोमवार शाम को छुट‌्टी होने पर वह अकेले फैक्ट्री से पैदल घर जा रही थी। रास्ते में नीलकमल फैक्ट्री के पास बाइक लेकर पीछे से आए दो युवक मुंह पर तेजाब डालकर भाग गए थे। महिला को सिविल अस्पताल से रोहतक रेफर कर दिया था।

 

 

Source : Bhaskar

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *