Connect with us

City

Overload 100 KV के 135 ट्रांसफार्मराें की जगह 200 KV के लगाने पर काम शुरू

Published

on

Advertisement

बिजली के अघाेषित कटाें से उपभाेक्ताओं काे राहत मिलने की उम्मीद जागी है। बिजली निगम ने ट्रांसफार्मर रिप्लेसमेंट स्कीम के तहत जिलेभर में ओवरलाेड हाे चुके ट्रांसफार्मराें की जगह उससे दाेगुनी क्षमता वाले नए ट्रांसफार्मर लगाने पर काम शुरू कर दिया है।

इसमें जिलेभर के 135 ट्रांसफार्मराें काे चिन्हित करके उनकी सूची तैयार कर उच्चाधिकारियाें काे भेजकर मंजूरी ली है। याेजना पर काम भी शुरू हाे गया है। ज्यादातर ट्रांसफार्मर 100 केवीए की क्षमता वाले चिन्हित किए गए हैं।

Advertisement

Burned Transformer Here And Then .... - यहां जल गया ट्रांसफार्मर और फिर....  | Patrika News

इलाकों को चिह्नित कर सूचीबद्ध किया

Advertisement

बिजली निगम के पानीपत सर्कल में पड़ने वाले सनाैली राेड सब डिवीजन के एसडीओ रामेंद्र मलिक ने बताया कि शहर में रात के जिस एरिया में ज्यादा फ्यूज उड़ते थे, पहले उन इलाकाें काे सूचीबद्ध किया गया। फिर उन ट्रांसफार्मराें काे सूची तैयार की जिनके फ्यूज ज्यादा उड़ते थे। ऐसे ट्रांसफार्मराें काे ओवरलाेड मानकर सूची तैयार की गई है, जिन्हें बदल दिया जाएगा।

इन 3 तरीकाें सेे निकाला कटाें से मुक्ति का रास्ता

Advertisement
  • जिस एरिया में 65, 100 या 200 केवीए क्षमता वाले ट्रांसफार्मर ओवरलाेड मान लिए गए, उनकी जगह सीधे 200 या 400 केवीए वाले नए ट्रांसफार्मर लगाने की याेजना बनी है।
  • जहां पर जितनी क्षमता का ट्रांसफार्मर ओवरलाेड मिला, उसके बराबर में उतनी ही क्षमता का नया ट्रांसफार्मर लगाने पर काम शुरू हुआ है।
  • लाेड बैलेंस यानी ओवरलाेड ट्रांसफार्मराें से कनेक्शन हटाकर दूसरे इलाकाें में अंडरलाेड कनेक्शनाें से जाेड़ने पर काम शुरू हुआ है।

सेंट्रल स्टोर में पहुंचे 84 ट्रांसफार्मर

सोनीपत और गोहाना से 84 ट्रांसफार्मर लाए गए हैं। जो गोहाना रोड पावर हाउस के सेंट्रल स्टोर में रखे गए हैं। शहर में ट्रांसफार्मर कहां लगाए जाएंगे, इसकी लोकेशन तय कर ली गई है। अफसरों का दावा है कि एक दिन में 7 ट्रांसफार्मर लगाने की क्षमता है। दो सप्ताह में और नए लाए जाएंगे।

ट्रांसफार्मर पर काम करता कर्मचारी। - Dainik Bhaskar

क्षेत्र अनुसार समझें, कहां बदले जा रहे हैं ट्रांसफार्मर

{माॅडल टाउन सब डिवीजन: एसडीओ प्रवीन सिंह ने बताया कि उनकी टीम ने रात के समय में ड्यूटी देकर 37 ट्रांसफर्मराें काे ओवरलाेड वालाें की सूची में शामिल किया। इनमें से 100 केवीए वाले 15 से ज्यादा ट्रांसफार्मराें काे बदल दिया है। बाकी पर काम चल रहा है। {सनाैली राेड सब डिवीजन: एसडीओ रामेंद्र मलिक ने बताया कि पूरे सब डिवीजन में 1200 ट्रांसफार्मर हैं। इनमें से 15 ओवरलाेड पाए गए। इनमें 4 नए लगा दिए हैं। बाकी 100 केवीए वाले 11 काे बदलने पर जल्दी ही काम शुरू हाे जाएगा। 20 ट्रांसफार्मराें का लाेड बैलेंस कर दिया है।

सब अर्बन सब डिवीजन

एसडीओ आदित्य कुंडू ने बताया कि 100 केवी 30 ट्रांसफार्मर ओवरलाेड पाए गए। ज्यादातर के एच पाेल लग चुके हैं। 15 बदल दिए गए हैं। 15 भी इसी माह में बदलने की उम्मीद है। सभी जगहाें पर 200 केवीए के ट्रांसफार्मर लगाए जा रहे हैं।

सिटी सब डिवीजन : एसडीओ जतिन जांगड़ा ने बताया कि 200 केवीए के 4 नए ट्रांसफार्मर लगा दिए हैं। इनके अलावा 16 और भी बदलने के लिए एस्टीमेट तैयार करके सूची उच्चाधिकारियाें काे भेज दी है। मंजूरी मिलते ही इन्हें भी बदल देंगे।

एक माह भीतर ही बदलने का रखा है लक्ष्य : एसई

बिजली निगम के पानीपत सर्कल में जितने भी ट्रांसफार्मर ओवरलाेड हाे चुके हैं, उनकी जगह नए ट्रांसफार्मर बदलने का लक्ष्य एक माह रखा गया है। उपभाेक्ताओं काे बेहतर बिजली सप्लाई उपलब्ध कराना ही हमारा उद्देश्य है। रात में आने वाले फाॅल्ट ठीक करने के लिए टीम गठित करके जिम्मेदारी साैंपी गई है। इसमें काेई लापरवाही करता है ताे उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई हाेगी।
-जेएस नारा, एसई, बिजली निगम, पानीपत।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *